गुरुवार, 3 फ़रवरी 2011

पल बना रहा.. बात.... चलती रही..

चंद पलों का साथ था
चंद पलों की बात थी...
जिंदगी गुजर गयी...... पल बना रहा.. बात.... चलती रही...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें